September 24, 2021

Top1 india news

No. 1 News Portal of India

जनपद न्यायालय के न्यायाधीशगणों ने किया राजकीय बाल गृह एवं “पाथ वात्सलय” खुला आश्रम गृह (बालक) का औचक निरीक्षण, दिये गये आवश्यक निर्देश

1 min read

रिपोर्ट – मो सद्दाम हुसैन
देवरिया: सोमवार, 23 नवंबर 2020 आज दिनांक 23.11.2020 दिन सोमवार को अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट तथा सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा राजकीय बाल गृह देवरिया तथा “पाथ वात्सलय” खुला आश्रम गृह (बालक) में वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव एवं जन जागरूकता हेतु साफ-सफाई, शुद्ध पेयजल, खान-पान, तथा रहन-सहन का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान न्यायाधीशगणों द्वारा उपस्थिति

पंजिका का जांच किया गया जिसमें सभी कर्मचारी उपस्थित पायें गये। अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश रजनीश कुमार द्वारा बताया गया कि इस समय सर्दी का मौसम बच्चों को कोरोना से बचाव हेतु उत्तम भोजन एवं शुद्ध जल की व्यवस्था की जायें जिससे उनके इम्यूनिटी पाॅवर बनी रहेें, एवं समय पर काढ़ा का भी सेवन कराया जायें। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट भूपेन्द्र प्रताप ने बच्चों के सोने हेतु उनके विश्रामालय, बच्चों के भोजन हेतु उनके खाद्य सूची का निरीक्षण करते हुये भोजन में पौष्टिक आहार देने का निर्देश दिया। सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण शिवेन्द्र कुमार मिश्र द्वारा बच्चों के पठन-पाठन का निरीक्षण किया, बच्चों द्वारा संतोषजनक उत्तर न मिलने पर उपस्थित अध्यापको को बच्चों को ठीक ढंग से पढाने का निर्देश दिया गया। सर्दी के मौसम में कोविड महामारी को देखते हुये निर्देश दिया कि बाल गृह के बच्चों का कोरोना टेस्ट को सप्ताह में एक बार अवश्य कराये साथ ही बच्चों को शुद्ध जल दिया जायें, गुणवत्तापूर्ण भोजन दिया जायें। सभी बच्व्चों को मास्क पहनने के लियें प्रेरित किया जायें। बच्चों से योगा कराया जाय। तत्पश्चात बच्चों के भोजन का निरीक्षण किया गया, मीनू के अनुसार भोजन सही पाया गया। राजकीय बाल गृह में भण्डार गृह में गन्दगी को तुरन्त सफाई कराने हेतु निर्देशित किया गया। जिससे अन्य विमारियों से भी बचा जा सके, सभी बच्चों को आगाह किया गया कि वे भीड़-भाड़ वाले जगहों से दूर रहे, क्योंकि इस समय बढ़ते कोरोना वायरस के दौरान सबकों सतर्क रहने की जरूरत हैं। सभी बच्चों के श्वास की जांच हेतु निर्देश दिया गया। सिविल जज (जू0डि0) नासेहा वसीम ने बच्चों के भोजन के किचेन में साफ सफाई की गुणवत्ता की जंाच किया, तथा भोजन की गुणवत्ता को बनायें रखने तथा बच्चों को हमेशा दूर से रहकर बात करने तथा गर्म पानी पीने का निर्देश दिया। इस निरीक्षण में मुख्य रूप से अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश रजनीश कुमार, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट भूपेन्द्र प्रताप, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण शिवेन्द्र कुमार मिश्र, सिविल जज (जू0डि0) नासेहा वसीम, जिला परिवीक्षा अधिकारी प्रभात कुमार, बाल कल्याण अधिकारी जयप्रकाश तिवारी, राजकीय बाल गृह देवरिया के अधीक्षक यशोदानंद तिवारी व अन्य सम्बन्धित कर्मचारीगण उपस्थित रहें।

Top1 India News Deoria

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2021 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 7080822042
Translate »