September 23, 2021

Top1 india news

No. 1 News Portal of India

बदलता मौसम कर सकता है परेशान, मामूली नही सर्दी-जुकाम

1 min read

रिपोर्ट – मो सद्दाम हुसैन

देवरिया जिले मे मौसम के करवट लेने से सामान्य रूप से इस बदलाव के साथ ही सर्दी-जुकाम का प्रकोप बढ़ने लगता है। अस्पतालों के बाहर मरीजों की कतार नजर आने लगती हैं, लेकिन इस बार परिस्थितियां कुछ अलग हैं। डॉक्टरों का कहना है कि इस बार लोगों को सर्दी-जुकाम-फ्लू के साथ-साथ कोरोना से भी लड़ना है। माैसम बदलाव के साथ बीमारियां भी बढ़ने लगी है। सुबह शाम की ठंड और दिन की तेज धूप के चलते कमजाेर इम्यून सिस्टम वाले लाेगाें पर इसका ज्यादा असर हाे रहा है। इसमें सबसे ज्यादा खतरा सर्दी, बुखार और जुकाम का रहता है। ऐसे में अब स्वास्थ्य विभाग हर क्षेत्र में जाकर लाेगाें की काेराेना जांच करेगा। क्याेंकि काेराेना और सर्दी के लक्षण एक जैसे हैं। ऐसे में लाेगाें काे इसका पता नहीं चल पाएगा कि उन्हें काेराेना है या नार्मल बुखार। लिहाजा विभाग की वैन जिन एरिया से ज्यादा मरीज आएंगे उन एरिया में तुरंत अपनी टीम भेजकर वहां पर लाेगाें के काेराेना टेस्ट करेंगे, ताकि समय रहते यह पता चल सके कि मरीज काे काेराेना है या नार्मल बुखार। इसके लिए विभाग ने एक टीम का गठन भी कर लिया है। जिसमें डाॅक्टर के अलावा, स्टाफ नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ भी शामिल हैं। इन्हें पहले ही ट्रेनिंग दी जा चुकी है। एक ओर जहां विभाग काेराेना से निटपने के लिए टेस्टिंग बढ़ा रहा है। वहीं दूसरी ओर जाे मरीज पाॅजिटिव हैं उन्हे एडमिट करते समय एक बुकलेट दी जा रही है। जिसमें काेराेना के दाैरान एहतियात बरतने के बारे में बताया गया है। यही नहीं उन्हें काेराेना से ठीक हाेने के बाद क्या क्या सावधानियां बरतनी हैं। इस बारे में भी बताया गया है। हर मरीज काे यह बुकलेट दी जाती है। इससे जहां मरीज काे काेराेना से जल्दी ठीक हाेने में मदद मिल रही है। वहीं दाेबारा वह काेराेना की चपेट में ना आएं, इसके बारे मे भी बताया गया है।

*सामान्य सर्दी-जुकाम और कोरोना में अंतर करना आसान नहीं, सर्दी-जुकाम होने पर कराएं जाँच*

*रखें अपना खास ख्याल*
कोविड-19 के मरीजों के लिए बने एल – 2 अस्पताल में कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे प्रभारी डॉ. इनायत हुसैन का कहना है कोरोना के लक्षणों में से एक भी नजर आए तो तुरंत जांच कराएं। रोग प्रतिरोधक क्षमता बनाए रखने के लिए पौष्टिक आहार और विटामिन सी का नियमित सेवन करें। ध्यान रखें कि कोरोना छूने से ही नहीं बल्कि मरीज द्वारा स्पर्श की गई वस्तुओं को छूने से भी हो सकता है। कोरोना के सामान्य लक्षणों में सांस लेने में दिक्कत होना, बदन दर्द, स्वाद नहीं आना, सूंघने की क्षमता में कमी आना, पतले दस्त होना, गले में दर्द होना और गले में चुभन होना शामिल है। सर्दी-जुकाम इसका एक अतिरिक्त लक्षण है, कोरोना का मरीज सामान्य रूप से 14 से 21 दिन में पूरी तरह से ठीक हो जाता है।

टॉप वन इंडिया न्यूज देवरिया उत्तर प्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2021 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 7080822042
Translate »