Top1 india news

No. 1 News Portal of India

ग्रामीण क्षेत्रो में कोविड रोगियों के चिन्हाकन का 9 मई तक चलेगा विशेष अभियान हेतु सीडीओ एवं प्रभारी सीएमओ बनाये गये है नोडल अधिकारी

1 min read

रिपोर्ट – मो सद्दाम हुसैन

माइक्रोप्लान अनुसार कार्य दायित्वों के निर्वहन किये जाने का गठित टीमों को दिया गया है निर्देश

*शिथिलता के लिये किया गया है आगाह-डीएम

*देवरिया* जिले मे जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने कोविड 19 रोग के प्रति सजगता, संभावित रोगियों के चिन्हिकरण तथा लक्षण युक्त व्यक्तियों की जाँच एवं आवश्यकतानुसार औषधि वितरण हेतु 09 मई तक संचालित बृहद अभियान के सफल क्रियान्वयन हेतु मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणप्पा जी एन को नोडल अधिकारी एवं चिकित्सा विभाग के लिये प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी डा सुरेन्द्र सिंह को नोडल अधिकारी नामित किया है, जो सभी सम्बन्धित अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर सभी निर्देशों का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करायेंगे।

*अभियान के तहत टीम द्वारा किये जाने वाले महत्वपूर्ण कार्यः-*

जिलाधिकारी श्री निरंजन ने इस अभियान के अन्तर्गत अपनाये जाने वाले प्रक्रियाओं के विवरण एवं दिशा निर्देशों के क्रम में बताया है कि जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों में इस अभियान के संचालन हेतु घर-घर भ्रमण मे दलों का गठन करते हुए एक माइकोप्लान तैयार कर चिन्हिकरण का कार्य सुनिश्चित किया जायेगा। गठित दलों द्वारा जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर भ्रमण किये जाने का निर्देश दिया गया है। प्रत्येक आशा क्षेत्र (लगभग एक हजार आबादी ) में एक टीम का गठन, जिसमें (स्थानीय आशा आंगनबाड़ी/ अध्यापक/ निगरानी समिति के सदस्य में से उपलब्धता के अनुसार) दो सदस्य होगें । प्रत्येक टीम एक आशा के क्षेत्र को 05 दिनों में पूर्ण रूप से आच्छादित करेगी। दलों के द्वारा क्षेत्र में यह गतिविधि प्रातः 08 बजे से अपरान्ह 02 बजे तक सम्पन्न की जाएगी। प्रत्येक टीम को मास्क, ग्लब्स, सैनेटाइजर एवं निर्धारित प्रपत्र पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराये जाएगें। यह टीमें घर-घर जाकर कोविड प्रोटोकाल का पालन कराते हुए अन्य गतिविधियों को अपने क्षेत्र में यथा- कोविड रोग के विषय में संवेदीकरण, निकटवर्ती जाँच एवं उपचार केन्द्रों के विषय में जनसामान्य की जानकारी टीम द्वारा दी जायेगी। लक्षणयुक्त व्यक्तियों की पहचान कर सूचीबद्ध करते हुए जॉच हेतु निकटतम जाँच केन्द्रों पर भेजा जायेगा, ऐसे लक्षणयुक्त जिन्हें बुखार खासी इत्यादि कि साथ सॉस फूलने जैसे लक्षण प्रकट हो रहे हैं परन्तु जिनकी अभी तक जाँच नहीं हुई है और वे निकटवर्ती स्वास्थ्य केन्द्र पर जाने में सक्षम भी नहीं है, यथा अकेले रहने वाले वृद्ध व्यक्तियों को औषधि उपलब्ध करायेगें। यदि किसी घर में कोविड धनात्मक व्यक्ति है तो उसे होम आइसोलेशन एवं संगरोध के विषय में जानकारी देने होगी, सभी व्यक्तियों को राज्य एवं जनपद स्तर के हेल्पलाइन के बारे में अवगत कराया जाएगा, सभी 18 साल के अधिक आयु वर्ग के व्यक्तियों को कोविड 19 टीकाकरण की जानकारी प्रदान करते हुए टीकाकरण हेतु प्रेरित भी टीम द्वारा की जायेगी। सभी परिवारों को कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर के बारे में पूरी तरह से जानकारी देंगे, अपनी गतिविधियों की दैनिक रिर्पोट अपने पर्यवेक्षक को उपलब्ध करायेंगी, लक्षणयुक्त व्यक्तियों की सूचना ग्राम विकास अधिकारी तथा निगरानी समीति के साथ भी वे शेयर करेगें।

*टीम्स सदस्यों को भी अपनानी होगी सावधानियांः-*

जिलाधिकारी ने टीम्स के लिए सावधानियों को अपनाये जाने के निर्देश के साथ बताया कि टीम के सदस्य मास्क का सही प्रकार से धारण करेंगे तथा उसे बार-बार नही छुऐगे, कार्य के दौरान मास्क को लगातार धारण करना है एवं यह सुनिश्चित करना है कि वह ढके रहे, बातचीत करते समय मास्क को नीचे कदापि नहीं करेगें, कार्य के दौरान बार-बार हाथ धोना तथा सेनिटाइजर का भी कार्य करेगें। दलों के घर के अन्दर प्रवेश नहीं करना है बल्कि बाहर बुलाकर कोविड प्रोटोकाल अनुसार कार्य सम्पादित करेगें, किसी भी घर पर रुक कर चाय अथवा जलपान नहीं करेगें।
अभियान के सुपरविजन के लिये तैनात किये गये है पर्यवेक्षक, सौपी गयी है उन्हे जिम्मेदारीः-
श्री निरंजन ने बताया है कि प्रत्येक 05 टीम्स पर एक पर्यवेक्षक की तैनाती की गयी है जो कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए दिये गये दायित्वों का निर्वहन करेगें। वे प्रत्येक दिन कार्य प्रारम्भ होने से पहले टीम्स को माइकोप्लान के अनुसार कार्य करने हेतु निर्देशित करेगें। इस पाँच दिवसीय गतिविधि हेतु टीम के प्रत्येक सदस्य एवं पर्यवेक्षक को रू0 100/प्रतिदिन की दर से मानदेय दिया जायेगा। क्षेत्रीय आंगनवाडी कार्यकर्तिओं, निगरानी समिति के सदस्यो, ग्राम विकास अधिकारियों तथा आवश्यकतानुसार क्षेत्रीय अध्यापकों का सहयोग भी इस अभियान में लिये जा सकेगें। साथ ही सचल दलो द्वारा कोविड जांच का कार्य भी इस दौरान किया जायेगा। सभी को टीमभाव से करना होगा कार्य, अन्यथा होगी कार्यवाही जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों, जुडे विभागो को दिये गये कार्य निर्देशों का पूरी तरह से पालन किये जाने का निर्देश दिया है। उन्होने आगाह करते हुए यह भी कहा है कि किसी भी स्तर से कोई चूक न हो, इसका वे पूरी तरह से ध्यान रखेगें। यह अत्यन्त ही महत्वपूर्ण अभियान है। इसमें सभी टीम भाव से आपसी समन्वय के साथ कार्य करते हुए इसे सफल बनायेगें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2021 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 7080822042
Translate »