September 24, 2021

Top1 india news

No. 1 News Portal of India

सड़क बना कूड़ा डंपिंग सेंटर, संक्रमण का बढ़ा खतरा

1 min read

रिपोर्ट – सद्दाम हुसैन

देवरिया: जिले मे देवरिया-गोरखपुर फोरलेन पर नगरपालिका देवरिया द्वारा सड़क किनारे ही कूड़ा डंपिंग कर लोगों के लिए मुसीबत का सबब बन गया है । बारिश के चलते कूड़े की सड़न से एक तरफ आसपास के लोगों में संक्रमण का खतरा बढ़ रहा है तो दूसरी ओर इसकी बदबू से क्षेत्रीय लोगों तथा राहगीरों का उधर से गुजरना दुश्वार हो गया है।

देवरिया-गोरखपुर फोरलेन पर मेहड़ा ढ़ाबा चौराहा से औराचौरी चौराहे तक सड़क के किनारे देवरिया नगर पालिका लगाती है कूड़े का अम्बार

बता दें कि देवरिया नगर का कूड़ा नगर पालिका द्वारा पूर्व में फ्लाईओवर के नीचे सड़क के दोनो तरफ फेंका जाता था। लेकिन नगर की बढ़ती आबादी व कूड़े का अम्बार अधिक होने से नगर पालिका को यह जगह छोड़ना पड़ा। चीनी मिल के पूरब व नाला के पश्चिमी हिस्से में पड़ने वाले स्थान की साफ सफाई कर उसे विभिन्न तरह के कार्यक्रमों के लिए आयोजन स्थल बना दिया गया तथा नाला के पश्चिम तरफ भी कूड़ा फेकने का काम बंद कर दिया गया। कुछ दिनों तक नगर का कूड़ा रेलवेलाइन पार कुर्ना नाला के पहले पूर्वी हिस्से में डाला जाने लगा। लेकिन वहां भी लोगों की चहलकदमी और आपत्ति से कूड़ा फेकना बंद हो गया। वर्तमान में नगर पालिका देवरिया द्वारा नगर का कूड़ा मेहड़ा ढ़ाबा चौराहे से औराचौरी चौराहे तक गोरखपुर- देवरिया फोर लेन पर सड़क व रेल लाइन के बीच में फेंका जा रहा है। जहां कूड़ा डाला जा रहा है वहां राजकीय पालिटेक्निक कालेज भी है। नगर पालिका द्वारा कूड़ा डंपिंग सैंटर बनाए जाने से सबसे अधिक प्रभावित मेहड़ा, औराचौरी गांव, पालिटेक्निक कालेज व सड़क से गुजरने वाले लोग हो रहे हैं। नगर का कूड़ा करकट सड़क किनारे डालने से इन दिनों हो रही बरसात के चलते उसमें सड़न के बदबू उठनी शुरू हो गयी है। इस समस्या से लोगों में संक्रमण का खतरा बढ़ गया। नगर पालिका द्वारा फैलाई जा रही गंदगी से क्षेत्रीय लोगों में रोष व्याप्त है। इस गंदगी के अम्बार को देखकर लोगों का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान को यह आइना दिखाने के लिए काफी है। लोगों का कहना है कि नगर पालिका आज तक कहीं कूड़ा डंपिंग सेंटर नहीं बना पाया। जिससे कभी यहां तो कभी वहां कूड़ा फेंका जा रहा है। अगर समय रहते नगर पालिका प्रशासन चेता नहींं तो लोगों को गंभीर बिमारियों का सामना करना पड़ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2021 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 7080822042
Translate »