December 5, 2021

Top1 india news

No. 1 News Portal of India

टूटी खाट पर बीमार बाप, बच्चे खाने को मोहताज़,मदद का इंतज़ार

1 min read

रिपोर्ट – सद्दाम हुसैन

देवरिया:  (उ0प्र0) देवरिया जिले के पथरदेवा ब्लाक के कोटवा मिश्र गांव के हाफिज हसमुद्दीन पुत्र स्व0 ईशू अंसारी गम्भीर बीमारी (फेफड़ा का सिकुड़ना) से जूझ रहे है। टूटी खाट पर लेटे हसमुद्दीन अंसारी हाफिज है। क्षेत्र के ही ग्राम पंचायत बौरिया मस्जिद में इमामत नमाज पढ़ाने के कार्य करते थे बीमारी के बाद से उनकी नौकरी छूट गई. इसके बाद से वो अपने उजड़े हुए घर पर बीमारी का दंश झेल रहा है।

*बीमार पीडित का नहीं बना है आयुष्मान कार्ड,नहीं है अंत्योदय कार्ड*

हसमुद्दीन के चार बच्चे हैं जो अभी छोटे है। सबसे बड़ी लड़की राबिया खातून 11 वर्ष , आशिफ् 9 वर्ष , साबिया 7 वर्ष, सबसे छोटी बच्ची सबनमी 4 वर्ष है। हसमुद्दीन की पत्नी सुरूआत मे डा०.दाउद अऩ्सारी से इलाज कराई । फायदा नही होने पर डा० तौकीर आजम के यहा इलाज कराई फायदा नही हुआ तो गोरखपुर मे इलाज कराने लगी लेकिन कोई फायदा नहीं मिला। समाजिक कार्यकरता आशिक अन्सारी ने ग्रामीणो से चन्दा माग के बी०एच० यु० वाराणसी मे ईलाज करा रहे है। संकट के इस दौर मे अब हसमुद्दीन के परिवार पर दोहरी मार पडी है । एक तो करोना काल से अभी पूर्ण रूप से बहर् नहीं आये की गंभीर बीमारी के चपेट मे आगये। हसमुद्दीन ही
बच्चे इधर-उधर से खाना मांग-मांगकर अपनी भूख मिटा रहे हैं. बीमार पीडित दंपति ने प्रतिनिधियो से मदद की गुहार लगाई है। पर आश्वासन के सिवा कुछ भी नहीं मिल पाया। हसमुद्दीन की पत्नी का कहना है की इस संकट मे बेटा बेटी को कलम की क़ुरबानी देनी पड़ रही हैं । बड़ी बेटी राबिया पढ़ना चाहती है । लेकिन अब तो पिता की लाचारी देख कर उम्मीदें टूट गई है।

*नहीं मिली सरकारी सुविधा*

बेटी राबिया , जो अपने पिता के इलाज के सरकार से गुहार लगा रही है. बताती है कि किसी तरह अभी तक खाना पीना चल रहा है. लेकिन पापा का इलाज नहीं हो पा रहा है. इसके लिए रुपया नहीं है. किसी तरह कुछ बेचकर काम चलाते रहे हैं. किसी प्रकार की कोई सरकारी मदद नहीं मिली है. वहीं, गुमसुम बेटा 9 वर्ष का बेटा आसिफ यह आस लगाए है कि सरकार उनकी मदद करे.

*संबंधी करते रहे मदद*

हसमुद्दीन के सम्बन्धि आशिक अंसारी ने बताया कि वो उनकी मदद कर रहे हैं. क्षेत्र ही सामाजिक कार्यकर्ता एवं सगे सम्बन्धी से चन्दा करके अभी बी०एच्0यु0 मे इलाज करा रहे कि। आगे बताते है के हसमुद्दीन बिकलांग है लेकिन ना उनका अंत्योदय कार्ड है ना ही आयुष्मान कार्ड बना है। अभी तक सरकार की ओर से कोई मदद नहीं मिला

*अपील/अनुरोध पीङित के संबंधी का खाता नम्बर और Phone pay paytm है खाता नंबर- 21241010024231 IFSC code UBIN082124 Andhra bank 9839827552*

आप लोगों से निवेदन है हसमुद्दीन के लिये दुआ करे कोई अगर मदद करना चाहता है Rs 100,200, 500,1000 अपने हिसाब से मदद कीजिए एक छोटा सा मदद किसी को विधवा होने से,किसी का सर से पिता का साया बचा सकता है l

*”टॉप 1 इंडिया न्यूज़ चैनल देवरिया विज्ञापन के लिए सम्पर्क करे- 9839264099*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2021 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 7080822042
Translate »