Top1 india news

No. 1 News Portal of India

जनपद में आने वाले शत-प्रतिशत प्रवासियों को उपलब्ध कराया जाय रोज़गार: आयुक्त

1 min read

ब्यूरो रिपोर्ट नफीस अहमद खान

श्रावस्ती 12 जून,2020। सू0वि0। कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत उत्पन्न विषम परिस्थितियों में जनपद में बाहर से आने वाले प्रवासियों के लिए अधिक से अधिक रोज़गार के अवसर उपलब्ध कराने तथा उन्हें रोज़गार देने के उद्देश्य से आयुक्त देवीपाटन मण्डल गोण्डा महेन्द्र कुमार ने विकास भवन सभागार बहराइच में जनपद श्रावस्ती व बहराइच के अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक के दौरान मनरेगा योजना के तहत कन्वर्जेंस विभागों के प्रस्तावों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिया कि 15 जून 2020 से पूर्व सभी औपचारिकताएं पूर्ण कर 15 जून से प्रवासियों को रोज़गार उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।
आयुक्त श्री कुमार ने कहा कि मनरेगा के तहत मानव दिवस सृजन कर अधिक से अधिक लोगों को रोजगार मुहैया कराएं। उन्होंने कहा कि मानव दिवस सृजन को शीर्ष प्राथमिकता प्रदान करते हुए मानव सेवा के दृष्टिकोण से इस कार्य को करें, सभी अधिकारी इस बात का विशेष ध्यान रखें कि कोई भूखा व बेसहारा न रहने पाये। आयुक्त ने यह भी निर्देश दिया कि प्रवासियों व श्रमिकों को कार्य आवंटित करते समय कार्य करने के इच्छुक सभी व्यक्तियों को काम दिया जाये।
बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अवनीश राय ने बताया कि मनरेगा के तहत कन्वर्जेन्स विभागों द्वारा 230 कार्य प्रस्तावित कर 389291 मानव कार्य दिवस सृजित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। विभागवार प्रस्तावित कार्य व मानव दिवस का विवरण प्रस्तुत करते हुए बताया गया कि वन विभाग द्वारा 18 कार्य के सापेक्ष 39942, सिंचाई विभाग के 16 कार्य के सापेक्ष 48078, लोक निर्माण विभाग के 186 कार्य के सापेक्ष 288850 मानव दिवस तथा भूमि विकास विभाग द्वारा 6 कार्य के सापेक्ष 8097, आईडब्लूएमपी द्वारा 3910 व रेशम विभाग द्वारा 414 मानव दिवस सृजित करने का लक्ष्य प्रस्तावित किया गया है।
उन्होंने ने बताया कि जनपद में आये प्रवासियों की संख्या 35222 है जिसमें स्किल्ड श्रमिक 3405 हैं। स्किल्ड प्रवासियों में 1123 प्रवासी 15 से 35 आयुवर्ग के हैं। मुख्यमंत्री युवा-हब अन्तर्गत 15,000 पद हेतु रोज़गार सृजन की योजना तैयार की गयी है। स्क्लि मैपिंग के उपरान्त सेक्टरवार प्राप्त आँकड़े के अनुसार कृषि क्षेत्र अन्तर्गत 04 प्रतिशत, काॅस्ट्रक्शन 40, इलेक्ट्रिकल 15, इलेक्ट्रानिक 10, वाहन चालन 10, आॅटोमोटिव मैकेनिक 03, गारमेन्ट मेकिंग 02, सर्विस सेक्टर 05 व अन्य सेक्टर के 11 प्रतिशत प्रवासी चिन्हित किये गये हैं।

मुख्य विकास अधिकारी ने आयुक्त महोदय को बताया कि मनरेगा योजनान्तर्गत जनपद श्रावस्ती में तालाब निर्माण और सौन्दर्यीकरण, वृक्षारोपण, सर्वऋतु सम्पर्क मार्ग, नाली खडन्जा निर्माण, गौ-आश्रय केन्द्र, निजी पशु शेड (कैटल शेड), आॅगनबाड़ी केन्द्र, प्राथमिक विद्यालय की बाउण्ड्रीवाल, नेफड के निर्माण इत्यादि प्रमुख कार्य संचालित हैं।
उन्होने बताया कि राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत ग्रामीण क्षेत्र के गरीब परिवारों को जोड़कर मोमबत्ती, अगरबत्ती, हैण्डवाश, टाॅयलेट क्लीनर, साईनबोर्ड, डलिया बनाने जैसे घरेलू उद्योगों के साथ-साथ शहद व दुग्ध उत्पादन, फूलों की खेती, कुक्कुट व बकरी पालन, मास्क निर्माण, यूनीफार्म सिलाई इत्यादि गतिविधियों के माध्यम से अधिकाधिक लोगों को स्वरोज़गार उपलब्ध कराया जायेगा। इसके अलावा अन्य विभागों समाज कल्याण, खादी एवं ग्रामोद्योग, उद्योग, अल्पसंख्यक, नगर विकास, आरसेटी, प्रधानमंत्री मुद्रा व स्टैण्डअप इत्यादि योजना के माध्यम से भी लोगों को रोज़गार दिलाया जायेगा।
आयुक्त श्री कुमार ने बहराइच व श्रावस्ती जिले के अधिकारियों को निर्देश दिया कि शत प्रतिशत प्रवासियों को रोजगार के अवसर मुहैया कराये जायें। इसमें किसी प्रकार की उदासीनता व लापरवाही न बरती जाय। उन्होंने कहा की मा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी प्रवासियों को उनके मूल जनपदों में रोजगार मुहैया कराने के लिए कटिबद्ध हैं। इसलिए शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता को मद्देनज़र रखते हुए जनपदों में बाहर से आये हुए शत-प्रतिशत प्रवासियों को उनकी स्किल के अनुसार रोजगार उपलब्ध कराया जाय।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी बहराइच अरविन्द्र चैहान, जिला विकास अधिकारी श्रावस्ती विनय कुमार तिवारी, परियोजना निदेशक श्रावस्ती बाल गोविन्द शुक्ल, प्रभागीय वनाधिकारी श्रावस्ती ए0पी0 यादव सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे/

टॉप वन इंडिया न्यूज़ श्रावस्ती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2021 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 7080822042
Translate »