January 28, 2022

Top1 india news

No. 1 News Portal of India

कोविड-19 की तीसरी संभावित लहर से मुकाबले के लिए जिला प्रशासन की तैयारी का ब्यौरा

1 min read

रिपोर्ट – सद्दाम हुसैन ब्यूरो देवरिया

देवरिया: (उ0प्र0) देवरिया जनपद में कुल 1084397 कोविड टेस्ट किये गये हैं। जनपद में एक्टिव केस की कुल संख्या 10 है। जनपद में पॉजिटीवीटी रेट अपने Peak 17.9 प्रतिशत से गिरकर 0.01 प्रतिशत हो गयी है। वर्तमान में जनपद में कुल 505 ( 410 सरकारी एवं 95 निजी अस्पताल) ऑक्सीजन युक्त बैड्स है। कहीं पर भी बैड्स की कोई समस्या नहीं है। जनपद में 5 एल०पी०एम० के 611 ऑक्सीजन कन्सनट्रेटर एवं 10 एल०पी०एम० के 219 ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर उपलब्ध हैं। कुल 830 आक्सीज़न कन्सनट्रेटर उपलब्ध है। जनपद में 07 नये आक्सीजन प्लांट क्रियाशील हो चुके हैं। सी०एच०सी० पीपरादौला कदम में 500 एल०पी०एम०, सी०एच०सी० रूद्रपुर में 250 एल०पी०एम०, जिला चिकित्सालय देवरिया में 1000 एलपी०एम०, मेडिकल कॉलेज देवरिया में 500 एल०पी०एम०, एम०सी०एच० विंग में 1000 एल०पी०एम० के 2 आक्सीजन प्लांट एवं 85 एल०पी०एम० के 1 आक्सीजन प्लांट हैं। जनपद में कुल 62 वेन्टीलेटर, 32 बाईपैप एवं 08 एच०एफ०एन०सी० मशीन क्रियाशील है। जनपद में 108 एम्बुलेंस की संख्या 38 है, जिन्हें आवश्यकतानुसार आरक्षित कर कोविड कार्य में उपयोग में लाया जाता है। जनपद का औसत कॉटेक्ट ट्रेसिंग रेट 21.00 है। कोविड के तृतीय लेहर से बचाव हेतु एम०सी०एच० विंग जिला महिला चिकित्सालय में PICU 57 बेड, सामु०स्वा०केन्द्र रूद्रपुर में PICU 12 बेड, सा०स्वा०केन्द्र लार में PICU 20 बेड सामु०स्वा० केन्द्र गौरीबाजार में PICU 12 बेड एवं सामु०स्वा०केन्द्र पीपरादीलाकदम में PICU 12 वेड एवं 17 ई०टी०सी० वार्डो को पूर्ण रूप से क्रियाशील एवं सुदृढीकरण किया जा चुका है। तीसरी लहर हेतु चिकित्सकों, बाल रोग विशेषज्ञ, सी०एच०ओ० एवं स्टाफ नर्स का प्रशिक्षण सम्भावित तीरारी लहर को देखते हुए जनपद में 4 ब्लाक एवं जनपद स्तरीय पीकू हेतु चिकित्सकों, बाल रोग विशेषज्ञ, स्टाफ नर्स, सी०एच०ओ० का प्रशिक्षण किया जा चुका है। जनपद के तीन बाल रोग विशेषज्ञ, 1 चिकित्सा अधिकारी एवं 2 स्टाफ नर्स राज्य स्तर से मास्टर ट्रेनर के रूप में प्रशिक्षित किये जा चुके हैं। इन सभी मास्टर ट्रेनर के द्वारा अभी तक कुल 33 चिकित्सक, 34 स्टाफ नर्स, 18 सी०एच०ओ० का प्रशिक्षण पूर्ण हो चुका है ताकि ये लोग बेहतर तरीके से तीसरी लहर में बच्चों का उपचार कर सकें। साथ ही ऑन लाईन प्रशिक्षण के माध्यम से राज्य स्तर से चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ का प्रशिक्षण किया जा चुका है। दिनांक 06 एवं 07 जनवरी को जनपद के समस्त सी०एच०ओ० का कोविड सैम्पलिंग, आई०पी०सी० एवं कोविड मैनेजमेन्ट का प्रशिक्षण प्रस्तावित है।
जनपद में मुख्य चिकित्सा अधिकारी, देवरिया के अधीन कुंल 145 चिकित्सक (136 नियमित एवं 09 संविदा) कार्यरत है, जिसमें 10 बाल रोग विशेषज्ञ है। जनपद में कुल बाल रोग विशेषज्ञ की संख्या 21 है। जनपद में कुल सी०एच०ओ० की संख्या 117 एल०टी० की संख्या 31,एल०ए० की संख्या 46, फार्मासिस्ट की संख्या 98 है। समस्त चिकित्सक / स्टाफ को कोविड में कार्य करने का पूर्व अनुभव है। बी०एस०एल०-2 लैब की स्थापना जनपद में कोविड-19 आर०टी०पी०सी०आर० जाँच हेतु बी०एस०एल०-2 लैब की स्थापना 11.07.2021 को बाबू मोहन सिंह, जिला चिकित्सालय, देवरिया में हो चुकी है। दिनांक 01.01.2022 तक कुल 96958 सैम्पल की जाँच की जा चुकी है। निगरानी समिति एवं आर०आर०टी० ग्रामीण क्षेत्र में 1185 एवं शहरी क्षेत्र में 61 निगरानी समिति कियाशील है। ग्रामीण क्षेत्र में 16 आर०आर०टी० एवं शहरी क्षेत्र में 03 आर०आर०टी० क्रियाशील है।

*टीकाकरण*
दिनांक 01 जनवरी 2022 तक जनपद में कुल 18+ आयुवर्ग के लाभार्थियों के लक्ष्य 2281836 के सापेक्ष 1767666 (77.47प्रति०) लाभार्थियों प्रथम डोज़ एवं 1228676 लाभार्थियों को द्वितीय डोज़ से आच्छादित किया जा चुका है। हेल्थ केयर वर्कर के पंजीकृत लक्ष्य 11611 के सापेक्ष 11611 (100 प्रति०) लाभार्थियों को प्रथम डोज तथा 11582 लाभार्थियों को द्वितीय डोज़ से आच्छादित किया जा चुका है। फन्ट लाईन वर्कर के पंजीकृत लक्ष्य 11876 के सापेक्ष 11876 (100 प्रति० ) लाभार्थियों को प्रथम डोज़ तथा 11650 लाभार्थियों को द्वितीय डोज़ से आच्छादित किया जा चुका है।
18-44 आयु वर्ग के लाभार्थियों के लक्ष्य 1543679 के सापेक्ष 1109840 (71.90 प्रति०) लाभार्थियों को प्रथम डोज़ तथा 722467 लाभार्थियों को द्वितीय डोज़ आच्छादित किया जा चुका है। 45-59 वर्ष आयुवर्ग के लाभार्थियों के लक्ष्य 446140 के सापेक्ष 378360 (84.81 प्रति0) लाभार्थियों को प्रथम डोज़ तथा 285250 लाभार्थियों को द्वितीय डोज़ से आच्छादित किया जा चुका है। 60+ आयुवर्ग के लाभार्थियों के लक्ष्य 292017 के सापेक्ष 255979 (87.66 प्रति० ) लाभार्थियों को प्रथम डोज़ तथा 197727 लाभार्थियों को द्वितीय डोज़ से आच्छादित किया जा चुका है।

*कोविड-19 टीकाकरण (15 से 18 वर्ष आयुवर्ग, हेल्थ केयर / फ्रंटलाईन वर्कर, 60 वर्ष एवं 60 वर्ष से अधिक आयुवर्ग)*
दिनांक 03 जनवरी 2021 से 15-18 वर्ष के आयु के बच्चों एवं 10 जनवरी 2021 से हेल्थ हेयर वर्कर एवं फ्रंट लाइन वर्कर को द्वितीय डोज 39 सप्ताह पूर्ण होने के पश्चात् प्रिकाशन डोज से और 60 वर्ष या इससे ऊपर आयु के सहरूग्णता ग्रस्त व्यक्तियों को जिन्हें कोविड वैक्सीनेशन की दोनों खुराक लग चुकी है का वैक्सीनेशन किया जाना है। हेल्थ केयर वर्कर / फन्ट लाईन वर्कर जो वर्तमान में कोविन पोर्टल पर नागरिक की तरह दर्ज है और 60 वर्ष से कम उम्र के है उन्हें प्रिकाशन डोज का लाभ उठाने हेतु विभागीय रोजगार प्रमाण पत्र प्रस्तुत किया जाना होगा। निर्वाचन ड्यूटी पर तैनात किये जाने / सेवाएं प्रदान करने वाले कर्मचारियों को भी प्रिकाशन डोज का लाभ दिया जायेगा।15-18 वर्ष आयुवर्ग के ऐसे लाभार्थी (बच्चे) जिनकी जन्म तिथि 2007 या इससे पहले की है कोविङ टीकाकरण के लिए पात्र होगें। 15-18 वर्ष आयुवर्ग के लाभार्थियों के टीकाकरण के लिए आनलाईन, आन साइट एप्वाईमेन्ट बुक किया जा सकता है। 15-18 वर्ष आयु वर्ग के लाभार्थियों के लिए केवल डेडिकेटेड कोविड़ वैक्सीन सेन्टर पर को-वैक्सीन वैक्सीन से आच्छादित किया जायेगा।जनपदीय टास्क फोर्स की बैठक में यह निर्णय लिया गया है कि दिनांक 03.01.2022 से प्रारम्भ होने वाले 15-18 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों के वैक्सीनेशन हेतु सामु० / प्रा०स्वा० केन्द्र पर एक और चिन्हित इण्टरमीडिएट कालेजों पर वैक्सीनेशन का कार्य सम्पन्न किया जायेगा।
जनपद में 15-18 वर्ष आयुवर्ग के लाभार्थी बच्चों का कुल लक्ष्य 217487, 60+ आयुवर्ग के (सहरूग्णता ग्रस्त) लाभार्थियों का कुल लक्ष्य 58111 है।
दिनांक 03.01.2021 से 15-18 वर्ष आयु वर्ग के लाभार्थियों हेतु 73

*डेडिकेटेड कोविड वैक्सीनेशन सेन्टर की संख्या*
अरबन देवरिया-06,
अरबन बरहज-01, ग्रामीण क्षेत्र-66

*प्रचारित प्रसारित द्वारा सूचना विभाग देवरिया।*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2021 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 7080822042
Translate »