Top1 india news

No. 1 News Portal of India

सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए (iRAD ) मोबाइल एवं वेब एप्लीकेशन तैयार किया गया

1 min read

रिपोर्ट – सद्दाम हुसैन देवरिया

   देवरिया: (उ0प्र0) देवरिया जिले मे सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने व उनसे होने वाली मृत्यु दर पर प्रभावी रोकथाम के लिए सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय भारत सरकार की ओर से आईआईटी मद्रास के सहयोग से एकीकृत सड़क दुर्घटना डेटाबेस (iRAD ) मोबाइल एवं वेब एप्लीकेशन तैयार किया गया है। राष्ट्रीय सूचना-विज्ञान केंद्र, देवरिया द्वारा इसका कार्यान्वयन जनपद देवरिया में किया जा रहा है जिसमें iRAD मोबाइल ऐप के जरिये दुर्घटना से संबन्धित आंकड़ों की विस्तृत जानकारी दर्ज़ होगी। 15 मार्च 2021 से यह परियोजना देवरिया सहित प्रदेश के समस्त 75 जिलों में सफलतापूर्वक लागू किया जा चुका है। आईआरएडी (iRAD) एप्लिकेशन के माध्यम से दुर्घटनाओं के कारणों का विश्लेषण आईआईटी मद्रास के द्वारा किया जाएगा, जिससे सुरक्षा इंतजाम होने से जनपद देवरिया में होने वाली सड़क दुर्घटनाओं में कमी आएगी। आईआरएडी ऐप में जिले में होने वाली समस्त सड़क दुर्घटनाओं का विवरण दर्ज किया जाएगा। इस
एप्लीकेशन के द्वारा पुलिस सड़क दुर्घटनाओं को ऑन स्पॉट दर्ज़ कर रही है तथा RTO देवरिया द्वारा सड़क दुर्घटना में शामिल गाड़ियों का तकनीकी मुआयना भी किया जा रहा है। इस ऐप में हाईवे/PWD विभाग दुर्घटना स्थल की सड़क का विवरण अपडेट करेंगे।
उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा हाल ही में चतुर्थ सड़क सुरक्षा सप्ताह 18 अप्रैल 2022 से 24 अप्रैल 2022 तक मनाए जाने के निर्देश दिए गए थे। जिसके क्रम में 20 अप्रैल 2022 से 23 अप्रैल 2022 तक आईआरएडी (HRAD ) योजना का विशेष प्रशिक्षण ऑन लाइन गूगल मीट के माध्यम से डिस्ट्रिक्ट रोल आउट मैनेजर, एन०आई०सी० देवरिया सौरभ गुप्ता द्वारा जनपद के थानों के उप निरीक्षक गण एवं CCTNS ऑपरेटर को दिया गया एवं आगे भी समस्त थानों का प्रशिक्षण जारी है।
iRAD ऐप में अब स्वास्थ्य विभाग को भी सम्मिलित कर लिया गया है। इसमें अब सड़क दुर्घटना में मरने अथवा घायल होने वाले मरीजों की सूचना भी अपडेट होगी। यह जानकारी DIO,एन.आई.सी.,देवरिया के. एन.या दव ने दी।इस सम्बन्ध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी देवरिया में

डॉ. आलोक पाण्डेय के निर्देश के क्रम में 07 अप्रैल2022 को जिले के समस्त CHC, PHC एवं जिला अस्पताल के एक-एक मेडिकल ऑफिसर एवं डाटा एंट्री ऑपरेटर को गूगल मीट के माध्यम से नोडल अधिकारी हेल्थ आईआरएडी प्रोजेक्ट डॉ. पी. के. चतुर्वेदी के सहयोग एवं जिला सूचना-विज्ञानं अधिकारी, निचे देवरिया के. एन. यादव के मार्गदर्शन में जिला रोल आउट मैनेजर, iRAD सौरभ गुप्ता द्वारा iRAD का ऑनलाइनप्र शिक्षण दिया गया।

iRAD प्रोजेक्ट का मुख्य उद्देश्यस ड़क दुर्घटना के डेंजर जोन को चिन्हित कर घायल लोगों को गोल्डेन ऑवर में जरुरी चिकित्सा सुविधा मुहैया कराके मृत्यु दर के साथ ही दुर्घटना में कमी लाना है।
वर्तमान में पुलिस और परिवहन विभाग द्वारा इस प्रोजेक्ट
पर काम किया जा रहा था। अब स्वास्थ्य और हाईवे /
लोक निर्माण विभाग को भी इस प्रोजेक्ट में सम्मिलित
किया जा रहा है।
इस परियोजना के तहत स्वास्थ्य कर्मी सड़क दुर्घटना
में घायलों को बेहतर इलाज देने का प्रयास करने के साथ
ही घायलों की मेडिकल रिपोर्ट , डिस्चार्ज समरी, ड्रंक एंड
ड्राइव टेस्ट रिपोर्ट एवं पोस्टमार्टम रिपोर्ट आदि सूचना ऐप
पर अपडेट कर सम्बंधित थाने में पुलिस विभाग को
ऑनलाइन सूचित करेंगे। जिससे सड़क हादसे में घायल
हुए लोगों की मेडिकल रिपोर्ट अब मोबाइल पर ऑनलाइन
पुलिस देख सकेगी। दुर्घटना के मृतकों की पोस्टमार्टम
रिपोर्ट भी iRAD से ऑनलाइन अपलोड होने से केस की
विवेचना में भी तेजी आएगी। जनपद देवरिया में पुलिस
विभाग द्वारा अभी तक कुल 323 सड़क दुर्घटनाएं iRAD
लाइव ऐप में फीड किए जा चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2021 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 7080822042
Translate »